Category: poem

Aanshu

*धीरे-धीरे एक एक शब्द पढियेगा, हर एक वाक्य में कितना दम है ।* *"आंसू" जता देते है, "दर्द" कैसा है?* *"बेरूखी" बता देती है, "हमदर्द" कैसा है?* *"घमण्ड" बता …

ISI Hoti he Maa

एक माँ चटाई पर लेटी आराम से सो रही थी, मीठे सपनों से अपने मन को भिगो रही थी… तभी उसका बच्चा यूँ ही घूमते हुये समीप आया, माँ …

Shayad us din

*शायद उस दिन…!* मेरे परदादा, संस्कृत और हिंदी जानते थे। माथे पे तिलक, और सर पर पगड़ी बाँधते थे।। फिर मेरे दादा जी का, दौर आया। उन्होंने पगड़ी उतारी, …